रवीश कुमार का प्राइम टाइम : आर्थिक तंगी के दौर से लेकर, अयोध्या की जमीन का मामला
Listen now
Description
क्या सरकार ने कोई ऐसा आंकड़ा दिया है, जिससे पता चलता हो कि पिछले एक साल की महामारी में कितने लोगों की नौकरी चली गयी है. कितने लोगों की सैलरी कम हो गई है. कितने लोगों की कमाई आधी से भी कम हो गई है. ऐसे लोगों के जीवन पर क्या असर पड़ा है. लोग फेसबुक से लेकर ट्विटर पर लिख रह रहे हैं कि उनकी नौकरी चली गयी है और घर चलाने के पैसे नहीं है. इन बातों पर चिंता छोड़कर बहस हो रही है, किसे ब्लू टिक मिल रहा है और किसे नहीं मिलना चाहिए.
More Episodes
पता था कि लोगों की नजर उन बैंकों के बहिखाते पर है, जिनके यहां एनपीए लाखों-करोड़ों रुपये का हो चुका है. इस कारण बैंकों को बुरी नजर से देखा जाने लगा था. कब डूबेंगे कब क्या होगा. इसका समाधान निकाल लिया गया है.
Published 09/17/21
कानून को लेकर केंद्र और राज्य के बीच टकराव का एक नया मोर्चा नीट परीक्षा को लेकर खुल गया है. केंद्र के नागरिकता कानून, कृषि कानूनों के खिलाफ कई राज्यों की विधानसभा में प्रस्ताव पास हुए हैं. इस कड़ी में नीट की परीक्षा का मुद्दा भी जुड़ गया है.
Published 09/16/21
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अक्टूबर 2017 को भारत के 20 शिक्षा संस्थानों को दुनिया के 500 संस्थानों में पहुंचाने की नीति का ऐलान किया था. प्रधानमंत्री पटना में थे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मांग की थी कि पटना यूनिवर्सिटी को सेंट्रल यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया जाए, तो प्रधानमंत्री मोदी ने कह...
Published 09/15/21